दिल्ली में खुले में कूड़ा जलाने वाले सुधर जाए, वर्ना पड़ेगा महंगा, सरकार ने उठाया बड़ा कदम।

``` ```

दिल्ली में प्रदूषण कम करने को लेकर दिल्ली सरकार ने विंटर एक्शन प्लान के तहत समर एक्शन प्लान की शुरूआत की थी. सरकार की प्राथमिकता में सबसे पहले एंटी ओपन बर्निंग अभियान चलाने को कहा था. इस प्लान के तहत शुरू किए गए एंटी ओपन बर्निंग अभियान के शुरू होने के बाद से अब तक इसकी टीम ने 1915 जगहों का निरीक्षण किया गया है. इसके अलावा इसकी टीम ने कई बार लैंडफिल साइट का भी निरीक्षण किया है. जिसके बाद 21 लोगों को नोटिस का चालान जारी किया गया है.



पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताया है कि दिल्ली में 12 मई तक एंटी ओपन बर्निंग अभियान चलेगा. इस दौरान एंटी ओपन बर्निंग कैंपेन के तहत 10 विभागों की 500 टीमें तैनात की गई थीं जो 24 घंटे दिल्ली में ओपन बर्निंग की घटनाओं की निगरानी और रोकने के लिए त्वरित कदम उठा रही है.

एमसीडी को दिये गये हैं उचित कदम उठाने के निर्देश

यह भी पढ़ें  दिल्ली के निजी स्कूलों मे नर्सरी से पहली क्लास के पिछड़ा और दिव्यांग श्रेणी के विद्यार्थियों मिलेगा फायदा

इसकी रिपोर्ट पर्यावरण विभाग को दी जा रही है साथ ही लैंडफिल साइट पर आग की घटनाओं को नियंत्रित करने के लिए एमसीडी को सभी उचित कदम उठाने के निर्देश भी दे दिए गए हैं. पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि 20 अप्रैल से दिल्ली प्रदूषण कंट्रोल कमिटी (डीपीसीसी ) द्वारा औद्योगिक इकाईयों के लिए स्पेशल ड्राईव भी चलाया जाएगा.



जिसके तहत जहां भी पर्यावरण के नियमों का पालन नहीं होगा उन पर कार्रवाई की जाएगी. साथ ही दिल्ली के सभी 1607 पंजिकृत औद्योगिक इकाईयों को पीएनजी में परिवर्तित कर दिया गया है और अगर कोई भी औद्योगिक इकाई पर्यावरण के नियमों का उलंघन करती पाई गई तो उसपर विभाग द्वारा सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

लैंडफिल साइट पर आग कि घटनाओं को लेकर अहम बैठक


पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली में बढ़ती लैंडफिल साइट पर आग की घटनाओं के समाधान को लेकर 21 अप्रैल को दिल्ली सचिवालय में डीपीसीसी, एमसीडी, आईआईटी दिल्ली, पर्यावरण विभाग, टेरी, डीटीयू, सीएसई और अन्य सभी सम्बंधित विभागों के विशेषज्ञों के साथ उच्चस्तरीय बैठक रखी गई है. साथ ही लैडफिल साइट पर टीमें लगातार निरीक्षण करने का कार्य भी कर रही है.

यह भी पढ़ें  दिल्ली एनसीआर में बारिश के कारण बंद है ये रास्ते, निकलने से पहले देखे रूट

इस दौरान पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली में रोड साइड ग्रीन कवर को बढ़ाने को लेकर भी पीडब्लूडी को स्पेशल टास्क फोर्स बनाने के निर्देश दे दिए गए हैं. पीडब्लूडी ने इस पर कार्य करना शुरू कर दिया है. उनके द्वारा जारी की गई रिपोर्ट पर जल्द-से-जल्द रोड साइड ग्रीन कवर बढ़ाने का काम शुरू किया जाएगा.