दिल्ली वालो के लिए खुशखबरी, खोला जाएगा ये टर्नल, सिग्नल फ्री हो जाएंगे ये 6 प्वाइंट, 8 मिनट में तय होगा लम्बा रास्ता भी।

``` ```

प्रगति मैदान टनल 15 दिनों में खुल सकती है। इसे लेकर तैयारी शुरू हो गई है। उससे पहले टनल के अंदर ट्रायल रन होगा, जिससे कमियों का पता लगाया जा सके। ट्रायल में अगर सब कुछ सही पाया जाता है तो टनल यातायात के लिए खोल दी जाएगी। उधर, टनल को रिंग रोड से जोड़ने का काम शुरू हो गया है।

सराय काले खां से आईटीओ की ओर जाने वाले रास्ते पर खुलने वाली टनल के प्रवेश और निकास द्वार को रिंग रोड से जोड़ने वाली सड़क बन गई है। आईटीओ से सराय काले खां की ओर वाली सड़क से टनल के अंदर जाने वाले हिस्से को जोड़ दिया गया है, जबकि टनल के निकास द्वार को जोड़ा जाना बाकी है। यहां हाईटेंशन विद्युत लेन को अंडरग्राउंड किया गया है, जिसके चलते काम में देरी हो रही है।



जाम से राहत मिलेगी


टनल खुलने पर पूर्वी दिल्ली के रास्ते नई दिल्ली और लुटियन जोन में आने वाले लोगों को जाम नहीं झेलना पड़ेगा। वे अभी भैरों मार्ग, मथुरा और रिंग रोड पर जाम में फंसते हैं। टनल खुलने पर रिंग रोड से आने वाले वाहन सीधे प्रगति मैदान ट्रांसमिशन केंद्र के सामने से रिंग रोड के अंदर से होकर पटियाला हाउस कोर्ट रोज पर निकल सकेंगे

यह भी पढ़ें  द्वारका सेक्टर-21 से आगे ब्लू लाइन और एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन के यात्रियों को मिलेगी मेट्रो की सुविधा

जहां से इंडिया गेट सर्किल पकड़ कर अपने रास्ते पर जा सकेंगे। वहीं, इंडिया गेट के रास्ते पटियाला हाउस कोर्ट होते हुए टनल के अंदर से सीधे रिंग रोड पर निकल सकेंगे।

वहीं, अगर कोई वाहन मथुरा रोड से आ रहा है तो वह भैरों मार्ग से भी आसानी से रिंग रोड की ओर आ जा सकेगा, क्योंकि भैरों मार्ग से आगे भी एक टनल बनाई गई है, जिससे सीधे रिंग रोड पर निकल पाएंगे।



कैसे राहत मिलेगी

इसके शुरू होते ही मथुरा रोड, भैरों मार्ग, पुराना किला और रिंग रोड पर यातायात के छह प्वाइंट सिग्नल फ्री हो जाएंगे।

● यहां से करीब 1.5 लाख के करीब वाहन प्रतिदिन गुजरेंगे

● टनल के खुलने से रिंग रोड से इंडिया गेट सर्किल तक पहुंचने में महज छह से आठ मिनट का समय लगेगा।