दिल्ली बस नेटवर्क हुआ और भी बड़ा, जोड़ी गई 60 Ac बसे, जिसमे और भी दी गयी खास सुविधा जाने।

``` ```


दिल्ली की जनता को केजरीवाल सरकार आज बुधवार को एक और सौगात देने वाली है. परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत राजघाट क्लस्टर डिपो से 80 एसी बसों को हरी झंडी दिखाएंगे,

यह बसें दिल्ली की सड़कों पर जल्द ही दौड़ती हुई नजर आएंगी. दिल्ली की सड़कों पर दौड़ने वाली ये बसें दिल्ली मल्टी माडल इंटिग्रेटेड ट्रांजिट सिस्टम (डिम्ट्स) के तहत चलेंगी और सभी आधुनिक सुविधाओं से लेस होंगी. इन बसों को मिलाकर अब दिल्ली में कुल बसों की संख्या 7100 हो जाएगी.


जानकारी के अनुसार दिल्ली में इनके अलावा 70 से अधिक इलेक्ट्रिक बसें भी सड़कों पर दौड़ेंगी. इन बसों के लिए रजिस्ट्रेशन का काम चल रहा है, इनमें से 50 बसें रोहिणी सेक्टर-37 और 24 बसें मुंडेला कलां के डिपो में पहुंच भी गई हैं. अब दिल्ली में कुल 76 ई बसें हो जाएंगी, फिलहाल दिल्ली में दो ई बसें चल रही हैं. इन बसों को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हरी झंडी दिखाएंगे और इस टेंडर के तहत दिल्ली में 300 ई बसें आनी हैं. फिलहाल पहले चरण में 70 से अधिक बसें ही आई हैं.

यह भी पढ़ें  दिल्ली के पर्यावरण मंत्री ने प्रदूषण के खिलाफ अभियान किया शुरू, उलंघन पड़ेगा महंगा

बुधवार को 80 बसों को जब हरी झंडी दिखाई जाएगी तो इस अवसर पर दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव सहित सरकार के कई वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे. दिल्ली सरकार फिलहाल ई-वाहनों पर जोर दे रही है,

क्योंकि सरकार का मानना है इससे प्रदूषण में भी काफी कमी देखने को मिलेगी. क्योंकि इलेक्ट्रिक बसें ईंधन वाली बसों के मुकाबले कम प्रदूषण करती हैं और इसस राजधानी में प्रदूषण भी कम रहेगा. क्योंकि हाल ही में प्रदूषण को कम करने के लिए दिल्ली सरकार ने ई ऑटो को भी हरी झंडी दिखाई थी