बायोमेट्रिक जांच में पकड़े गए दिल्ली के सभी सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को किया बर्खास्त

``` ```

Delhi News बायोमेट्रिक जांच में पकड़े शिक्षकों पर जल्द एफआइआर दर्ज कराई जाएगी। शिक्षा निदेशालय ने इसकी तैयारी कर ली है।

अभी निदेशालय ने शिक्षकों को अपना पक्ष रखने के लिए एक महीने का वक्त दिया है।दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड (डीएसएसएसबी) की बायोमेट्रिक जांच में पकड़े गए सभी

सरकारी स्कूलों के टीजीटी और पीजीटी शिक्षकों को बर्खास्त करने के बाद शिक्षा निदेशालय सभी पर जल्द एफआइआर दर्ज कराएगा।

निदेशालय ने शिक्षकों को बायोमेट्रिक जांच न मिलने के बाद अपना पक्ष रखने के लिए एक माह का समय भी दिया है, लेकिन इस बीच निदेशालय की ओर से 12 शिक्षकों पर

एफआइआर दर्ज करने के निर्देश भी जारी किए गए हैं। इनमें से नौ शिक्षक उत्तर-पश्चिम जिले के हैं। तीन शिक्षक दक्षिण-पश्चिम ए जिले के हैं।

डीएसएसएसबी (DSSSB) ने साल 2018 में जब स्कूलों में पीजीटी और टीजीटी के खाली पदों को लेकर परीक्षा आयोजित की थी,

तब सभी चयनित उम्मीदवारों को 2019 में स्कूल आवंटित होने के बाद निदेशालय ने 200 से अधिक फर्जी शिक्षक पकड़े थे।

यह भी पढ़ें  दिल्ली सरकार ने दिवाली पर पटाखों के उत्पादन और उपयोग पर पूरी तरह से प्रतिबंध

दिल्ली सरकार 100 स्थानों पर करेगी तिरंगा संगीत कार्यक्रम

उधर, दिल्ली सरकार ने देश की आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने के लिए योजना बनाई है। इसके तहत 14 अगस्त की शाम पांच बजे 100 स्थानों पर तिरंगा संगीत कार्यक्रम किए

जाएंगे। इस कार्यक्रम में लगभग 20 लाख बच्चे भागीदारी करेंगे, जबकि सरकार की ओर से 25 लाख राष्ट्रध्वज भी वितरित किए जाएंगे।

सरकार के ‘हर हाथ तिरंगा’ अभियान के तहत इस आयोजन को मूर्त रूप देने के लिए दिल्ली पर्यटन और परिवहन विकास निगम लिमिटेड (डीटीटीडीसी) अपने पैनल में शामिल

एजेंसियों को शामिल करेगा और 25 लाख राष्ट्रध्वज खरीदे जाएंगे। सूत्रों ने कहा कि संस्कृति मंत्रलय के निर्देशों के अनुसार मंत्रलय द्वारा बताई गई दरों के आधार पर स्वयं सहायता समूहों

और अन्य निर्माताओं व आपूर्तिकर्ताओं से राष्ट्रध्वज खरीदे जाएंगे।अभियान में खरीदे जाने वाले 25 लाख राष्ट्रध्वज में से 20 लाख सरकारी व निजी स्कूलों के छात्रों के बीच बांटे

यह भी पढ़ें  देश की राजधानी दिल्ली या नई दिल्ली? आप जानते हैं दोनों में क्या है अंतर?

जाएंगे, जबकि दो लाख राष्ट्रध्वज करीब 100 पर आम लोगों को बांटे जाएंगे। स्थानीय निकायों के कर्मचारियों को भी ‘हर हाथ तिरंगा’ अभियान का पालन करने के लिए तीन लाख

राष्ट्रध्वज दिए जाएंगे। सीएम ने पिछले हफ्ते लोगों से आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने के लिए राष्ट्रध्वज पकड़कर राष्ट्रगान गाने का आह्वान किया था।