NHAI ने राष्ट्रीय राजमार्गों और नेशनल हाईवे के किनारे खाली जगह पर चार्जिंग हाउस बनाने का किया फैसला

``` ```

हमारा देश प्रगति की तरफ काफी तेजी से बढ़ रहा है और हमारे देश में कई तरह की नई नई सुविधाओं का व्यवस्था किया जा रहा है ताकि लोगों को हर चीज आसानी से उपलब्ध

हो सके और किसी भी समस्या का सामना ना करना पड़े. हमारा देश अब इलेक्ट्रॉनिक वाहनों के तरफ काफी तेजी से बढ़ रहा है. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो भारत ने डिसाइड किया

है कि साल 2070 तक हम हर तरह से इलेक्ट्रॉनिक वाहनों का उपयोग करने लगेंगे और तब तक डीजल और पेट्रोल वाहने लगभग बंद हो जाएंगे.

यही कारण है कि इस क्षेत्र में काफी तेजी से काम किया जा रहा है. इसी को देखते हुए नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी NHAI ने राष्ट्रीय राजमार्गों और नेशनल हाईवे के

किनारे खाली जगह पर चार्जिंग हाउस बनाने का फैसला किया है. जी हां NHAI का कहना है कि राष्ट्रीय राजमार्गों और एक्सप्रेस-वे के किनारे खाली जगहों पर जल्द ही चार्जिंग हाउस, पेट्रोल पंप, वेयरहाउस और फूड कॉर्नर बनाए जाएंगे.

यह भी पढ़ें  दिल्ली जल बोर्ड ने किया जनता को आगाह, 20 घंटे तक बंद रहेगी 30 इलाकों मे पानी की सप्लाई

NHAI ने खाली जगहों को चिन्हित करने के लिए निर्देश मीडिया रिपोर्ट की मानें तो NHAI ने नेशनल हाईवे एक्सप्रेस-वे के किनारे खाली जमीनों को व्यवसायिक प्रयोग में लाने के लिए क्रियान्वयन इकाइयों को उनके क्षेत्र में आने वाले

खाली जमीनों को चिन्हित करने के लिए सख्त निर्देश दिया है. इतना ही नहीं NHAI ने एक विस्तृत योजना भी तैयार कर लिया है बस मुख्यालय से सहमति मिलने का इंतजार कर रहा है

इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को बढ़ावा दे रही है सरकार दरअसल, सरकार इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को काफी ज्यादा बढ़ावा दे रही है. आपको बता दें कि NHAI एक्सप्रेस-वे और नेशनल हाईवे के खाली जगह को व्यवसायिक रूप से उपयोग करना

चाहता है ऐसे में NHAI पेट्रोल पंप, वेयरहाउस, फूड कॉर्नर जैसी चीजें बनाना चाहता है. हालांकि, सरकार के द्वारा इलेक्ट्रॉनिक वाहनों को काफी ज्यादा बढ़ावा दिया जा रहा है

ऐसे में एनएचआई चार्जिंग प्वाइंट स्टेंशन भी खाली जगहों पर बनायेगा. साधारण भाषा में कहें तो नेशनल हाईवे और एक्सप्रेस-वे के किनारे चार्जिंग स्टेंशन भी बनाए जाएंगे

यह भी पढ़ें  दिल्ली के राजौरी गार्डन मेट्रो स्टेशन पर आज से खुलेगी प्रदर्शनी, वीरता और विकास की कहानी से होंगे लोग रोशन

और इसको बनाने का उद्देश्य यह है कि लोग ज्यादा से ज्यादा इलेक्ट्रिक वाहनों का उपयोग करें.