दिल्ली में CNG के बढ़ते दामो से परेशान ऑटो कैब ड्राइवर ने उठाया ये कदम।

``` ```

सीएनजी के दाम बढ़ने के बीच राष्ट्रीय राजधानी में ऑटो, कैब और टैक्सी चालकों ने कहा है कि अगर सरकार ईंधन पर रियायत नहीं देती अथवा किराया नहीं बढ़ाती है तो वे लोग 18 अप्रैल से ‘‘अनिश्चितकालीन’’ हड़ताल पर जाएंगे. ऑटो, कैब और टैक्सी चालकों के संगठन सीएनजी की कीमतों में वृद्धि के विरोध में केंद्र और दिल्ली सरकार के खिलाफ शुक्रवार को जंतर मंतर पर और 11 अप्रैल को दिल्ली सचिवालय में विरोध प्रदर्शन करेंगे.


‘सर्वोदय ड्राईवर्स वेलफेयर एसोसिएशन’ के रवि राठौर ने कहा कि अगर सीएनजी की कीमतें कम करने या किराए में वृद्धि की उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो उनका संगठन ‘अनिश्चितकालीन हड़ताल’ करेगा. संगठन का दावा है कि दिल्ली-एनसीआर में लगभग चार लाख चालक उसके सदस्य हैं.

सीएनजी की कीमतों में बढ़ोतरी अप्रत्याशित- रवि राठौर
रवि राठौर ने कहा,‘‘ हमारी मांग है कि सीएनजी की दरों में कमी की जाए और अगर कीमतों में कमी नहीं की जा सकती, तो किराए में वृद्धि की जाए.’’ वहीं दिल्ली ऑटो रिक्शा संघ के महासचिव राजेंद्र सोनी ने कहा कि सीएनजी की कीमतों में बढ़ोतरी ‘अप्रत्याशित’है और टैक्सी, कैब तथा ऑटो चालकों के लिए रह पाना मुश्किल हो रहा है.


राष्ट्रीय राजधानी में वर्तमान में कम से कम एक लाख ऑटो हैं. सोनी ने कहा कि ‘‘अगर हमारी मांगे नहीं मानी गईं तो हम 18 अप्रैल से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाएंगे. हमने मूल्य वृद्धि के विरोध में 11 अप्रैल को सचिवालय में सांकेतिक धरना देने का भी फैसला किया है’’


अभी क्या हैं CNG के दाम?

यह भी पढ़ें  DL का झंझट खत्म! बिना ड्राइविंग लाइसेंस के कहीं भी घूमें फिर भी नहीं पकड़ेगी पुलिस

दिल्ली-एनसीआर परिवहन एकता मंच के महासचिव श्याम सुंदर ने कहा कि उनका संगठन सीएनजी और अन्य ईंधनों की कीमतों में बढ़ोतरी का विरोध करता है और मांग करता है कि केंद्र और राष्ट्रीय राजधानी की सरकार ईंधन की कीमतें कम करें.


गौरतलब है कि राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार को लगातार दूसरे दिन सीएनजी की कीमतें बढ़ाई गईं. सीएनजी के दाम में 2.50 रुपये प्रति किलोग्राम की वृद्धि की गई है जिसके साथ मार्च से अब तक दाम कुल 12.50 रुपये प्रति किलोग्राम बढ़े हैं.