# दिल्ली#Delhi मेट्रो ने रक्षाबंधन पर की स्पेशल तैयारी, पैसेंजर्स को मिलेगी स्पेशल सुविधाएँ, जाने कैसे

``` ```

रक्षाबंधन पर अगर कोई बहन दिल्ली मेट्रो से सफर कर अपने भाई से मिलने जा रही है, या कोई भाई अपनी बहन को तोहफा देने जा रहा है,

तो दिल्ली मेट्रो ने आपकी यात्रा सुगम बनाने के लिए स्पेशल तैयारी की है. DMRC को रक्षाबंधन के दिन भारी भीड़ रहने की संभावना है,

इसलिए उसने पहले ही कमर कस ली है.रक्षाबंधन पर भारी-भीड़ की संभावना को देखते हुए दिल्ली मेट्रो ने पहले ही कमर कस ली है.

डीएमआरसी ने रक्षाबंधन के दिन हर स्टेशन पर एक्स्ट्रा मैनपॉवर लगाई है. वहीं ट्रेनों की फ्रीक्वेंसी और टाइमिंग को लेकर भी चाकचौबंद व्यवस्था की है.

देशभर में गुरुवार यानी 11 अगस्त 2022 रक्षाबंधन का त्यौहार मनाया जाना है. इस दिन बहनें अपने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधती हैं.

दिल्ली मेट्रो का कहना है कि बीते सालों में भी रक्षाबंधन के दिन दिल्ली मेट्रो में यात्रियों की अत्याधिक भीड़ रहने का अनुभव रहा है.

यह भी पढ़ें  दिल्ली वालों के लिए जानलेवा साबित हो रहीं क्लस्टर बसें, साल दर साल बढ़ रही हादसों की संख्या

इसलिए दिल्ली मेट्रो ने इस बार पहले से तैयारी कर ली है, ताकि रक्षाबंधन के दिन बढ़ी हुई भीड़ की वजह से यात्रियों को कोई दिक्कत ना हो.

दिल्ली मेट्रो ने बताया कि DMRC के नेटवर्क में 169 अतिरिक्त टिकट ऑफिस मशीनों को लगाएगा. वहीं 65 कस्टमर फैसिलिटेशन एजेंट को तैनात किया गया है.

इस सबका मकसद त्यौहार के दिन यात्रियों की सुविधा का पूरा ध्यान रखना है. दिल्ली मेट्रो रेल निगम का कहना है कि एयरपोर्ट लाइन और लाइन 9 को छोड़कर सभी लाइन पर

स्टैंडबाय ट्रेन उपलब्ध रहेंगी. इससे भीड़ बढ़ने की स्थिति में तेजी से ट्रेनों को स्टेशनों तक पहुंचाया जा सकेगा. वहीं यात्रियों का आवागमन सुगम होगा.

रक्षाबंधन के दिन बड़ी संख्या में लोग दिल्ली-एनसीआर में अपने रिश्तेदारों के यहां जाते हैं. ऐसे में दिल्ली मेट्रो यातायात का एक अहम साधन होता है

और इसलिए डीएमआरसी ने इसके लिए खास तैयारी की है.
कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए, दिल्ली मेट्रो ने सभी यात्रियों से मास्क पहनने की अपील की है.

यह भी पढ़ें  दिल्ली विश्वविद्यालय में निकली बंपर वैकेंसी, 10वीं, ग्रेजुएट्स कर सकते है आवेदन, जाने पूरी जानकारी यहीं से

दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2,146 नए मामले सामने आए हैं. जबकि 8 लोगों की मौत हो चुकी है. इस समय राजधानी में कोविड के 8,205 एक्टिव केस हैं, वहीं संक्रमण दर 17.83% पर पहुंच गई है.