दिल्ली सरकार ने प्रदूषण की रोक को लेकर,हरियाणा की पुरानी रोडवेज बसेस की 1 अक्टूबर से दिल्ली मे एंट्री की बैन

``` ```

दिल्ली की केजरीवाल सरकार के एक फैसले ने हरियाणा सरकार की परेशानी बढ़ा दी है. दिल्ली सरकार ने 1 अक्टूबर से हरियाणा रोड़वेज की पुरानी बसों के दिल्ली में प्रवेश करने

पर रोक लगा दी है. BS-4 मॉडल आधारित ये बसें प्रदुषण ज्यादा करती है, जिनको देखते हुए दिल्ली सरकार ने यह कदम उठाया है.

केजरीवाल सरकार के इस फैसले से प्रदेश के विभिन्न जिलों से दिल्ली आवागमन करने वाले यात्रियों की मुश्किलें बढ़ने वाली है.दिल्ली सरकार ने निर्देश जारी कर कहा है कि BS-4 मॉडल

बसों को एक अक्टूबर से दिल्ली में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा क्योंकि BS-6 मॉडल की तुलना में ये बसें ज्यादा प्रदुषण फैलाती है.

इसलिए एनजीटी के आदेशों का पालन करते हुए ये निर्देश जारी किए गए हैं. अगर इन आदेशों की पालना की जाती है, तो निश्चित तौर पर हरियाणा के लोगों को दिल्ली की सीधी बस

सेवा का लाभ नहीं मिल पाएगा.बता दें कि हरियाणा के प्रत्येक जिले के रोड़वेज डिपो से हर रोज अनेक बसें दिल्ली के लिए आवागमन करती है.

यह भी पढ़ें  दिल्ली में रूट डायवर्जन प्लान लागू आज रात 10 बजे से ही वाहनों की आवाजाही होगी बंद ,जाने पूरा रुट

ज्यादातर डिपो में BS-4 मॉडल वाली बसें है, जो दिल्ली तक आवागमन करती है. ऐसे में समय रहते हरियाणा रोड़वेज को भी इस फैसले को लेकर कोई ठोस फैसला लेना होगा.

बहुत से डिपो लगातार अपने बेड़े में नई बसें शामिल करने की मांग हरियाणा परिवहन विभाग से कर रहे हैं, ताकि इन बसों को दिल्ली तक चलाया जा सकें और यात्रियों को किसी तरह

की परेशानी न झेलनी पड़े.आपको बता दें कि दिल्ली में प्रदुषण एक गंभीर समस्या है और सर्दियों में तो यह खतरनाक स्तर पर पहुंच जाता है.

स्कूल- कालेजों को बंद करने की नौबत आ जाती है. भारी वाहनों के दिल्ली की सीमाओं में प्रवेश करने पर रोक लगा दी जाती है.

ऐसे में दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने प्रदुषण पर रोक लगाने के उद्देश्य से समय रहते कदम उठाने शुरू कर दिए हैं.