दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन ने 10 अगस्त को No CNG Sale का दिन किया एलान

``` ```

CNG: देश की राजधानी दिल्ली में अगले महीने वाहन चालकों और सफर करने वालों को भारी परेशानी होने वाली है. अगले महीने यानी अगस्त की 10 तारीख को सीएनजी पंपों पर

CNG नहीं मिलेगी. दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन ने ये एलान किया है और इसे प्रोटेस्ट क्लोजर यानी विरोध में बंद रखने का फैसला किया है.

दरअसल दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन ने एक सूचना जारी कर इस बात की जानकारी दी है कि वो No CNG Sale के तहत 10 अगस्त को सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक सीएनजी की बिक्री बंद रखेगा.


क्या है कारण
दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन (DPDA) ने जानकारी दी है कि दिल्ली में सीएनजी की बिक्री करने वाली इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (IGL) ने दिल्ली के सीएनजी डीलर्स को बिजली के

वास्तिवक रीइंबर्समेंट पेमेंट को नहीं किया है और इसके चलते दिल्ली के डीलर्स को हर महीने भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है.

लिहाजा DPDA ने 10 अगस्त को सीएनजी पंपों पर बिक्री बंद रखने का निर्णय लिया है और अपनी मांगों के पूरा होने के लिए एसोसिएशन कदम उठाती रहेगी.

यह भी पढ़ें  दिल्ली की ट्रैफिक पुलिस अब जाम से लेकर बारिश तक देगी सारी जानकारी

DPDA के प्रेसिडेंट अनुराग नरेन के द्वारा जारी पत्र में इस बात की जानकारी दी गई है.


क्या लिखा है पत्र में
DPDA के प्रेसिडेंट की ओर से आईजीएल के जनरल मैनेजर को पत्र में लिखा गया है कि वो कई बार इस बात की मांग कर चुके हैं कि

आईजीएल गैस डिस्पेंस करने के लिए पेट्रोल पंपों पर वास्तविक बिजली के चार्ज को रीइंबर्स नहीं कर रही है. लगभग 2 साल से ज्यादा वक्त हो गया है कि

दिल्ली के डीलर्स ने इंतजार किया और ऑयल मार्केटिंग कंपनियों और आईजीएल के निर्देशों के मुताबिक सब-मीटर लगाए, उनका कैलिब्रेशन किया और ऑनलाइन रीडिंग के लिए प्रबंध किए.

हालांकि आईजीएल के अधिकारियों ने लगातार इस काम में रोड़े अटकाए और इसमें समय बर्बाद भी किया. शायद आईजीएल जानती है कि वो सीएनजी भरवाने में लगने वाली

इलेक्ट्रिसिटी के चार्ज से कम अदा कर रही है और इसीलिए वो बकाया इलेक्ट्रिसिटी रीइंबर्समेंट पेमेंट को नहीं करना चाहती है.

यह भी पढ़ें  दिल्ली और नोएडा को जोड़ने के लिए बन रहा है कॉरिडोर,फुट ओवर ब्रिज से जुड़ेगी मेट्रो रेल,देखे स्टेशन रूट

2 मार्च 2022 को आईजीएल के साथ हुई मीटिंग में डीलर्स को इस बात का भरोसा दिलाया गया था कि एक महीने के अंदर इस मुद्दे का समाधान कर दिया जाएगा.

लिहाजा अप्रैल 2022 तक डीलर्स ने इंतजार किया लेकिन वादा पूरा नहीं किया गया. DPDA इस बात की मांग करती है अगस्त 2019 से बकाया इलेक्ट्रिसिटी चार्ज को तयशुदा रेट्स

पर अदा किया जाए और हर 3 महीने पर इनको संशोधित किया जाए. अपनी मांगें पूरी ना होने की स्थिति में ही दिल्ली

पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन ने आने वाली 10 अगस्त को No CNG Sale का दिन रखने का फैसला लिया है.