दिल्ली यूनिवर्सिटी ने जारी किए आदेश, एडहॉक शिक्षको क़ो बड़ी राहत जानिए क्या है

``` ```

दिल्ली यूनिवर्सिटी के अलग-अलग कॉलेजों में पढ़ा रहे एडहॉक शिक्षकों के लिए अच्छी खबर है. दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने कॉलेजों के प्रिंसिपल को

सर्कुलर जारी कर किसी भी एडहॉक शिक्षक को नहीं हटाने को कहा है. सर्कुलर दिल्ली विश्वविद्यालय के असिस्टेंट रजिस्ट्रार की तरफ से जारी हुआ है.

असिस्टेंट रजिस्ट्रार की ओर से जारी सर्कुलर में कहा गया है कि एडहॉक टीचर की स्थायी नियुक्ति नहीं होने तक ना हटाया जाए.

एडहॉक शिक्षकों के लिए राहत भरी खबर

दिल्ली टीचर एसोसिएशन की ओर से एडहॉक शिक्षकों की कॉलेजों में स्थायी नियुक्ति का मुद्दा उठाया गया था. मुद्दा उठने के बाद दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने सर्कुलर जारी कर एडहॉक शिक्षकों को राहत दी.

दिल्ली शिक्षक संगठन (डीटीए) ने डीयू प्रशासन के फैसले का स्वागत किया है. डीटीए का कहना है कि विश्वविद्यालय का फैसला ना केवल शिक्षकों के हित में है

बल्कि छात्रों के हित में भी है. एडहॉक शिक्षक स्थायी नियुक्ति होने तक कॉलेजों में निश्चिंत होकर पढा सकेंगे और छात्रों की पढ़ाई भी बाधित नहीं होगी. डीयू प्रशासन का सर्कुलर आने के बाद एडहॉक शिक्षक पूरी तरह सुरक्षित हैं.

यह भी पढ़ें  दिल्ली से ग्रेटर नोएडा तक चलेगी मेट्रो, इन 21 स्टेशनों का होगा रूट, देखे लिस्ट।

स्थायी नियुक्ति होने तक नहीं हटाए जाएंगे

गौरतलब है कि दिल्ली यूनिवर्सिटी के विभागों और कॉलेजों में शिक्षकों की स्थायी नियुक्ति की जा रही है. फिलहाल स्क्रीनिंग और स्क्रूटनी की प्रक्रिया चल रही है.

शिक्षकों की नियुक्ति में हो रही देरी के बीच डीयू प्रशासन ने सर्कुलर सभी कॉलेजों और विभागों को जारी किया. डीटीए के अध्यक्ष डॉ हंसराज सुमन ने बताया कि दिल्ली विश्वविद्यालय का 20 जुलाई से शैक्षणिक सत्र

2022-23 शुरू होने जा रहा है. जल्द ही थर्ड ईयर की क्लासेस शुरू हो जाएगी. कॉलेजों और विभागों में छात्रों के हितों का ध्यान रखते हुए एडहॉक शिक्षकों को प्रशासन जरूरी जिम्मेदारियां और दिशानिर्देश दे सकेगा और जॉइनिंग में कोई दिक्कत नहीं आएगी.

यूनिवर्सिटी प्रशासन ने जारी किया सर्कुलर


डॉक्टर हंसराज सुमन ने कहा कि सभी शिक्षक संगठनों ने नियुक्ति में आ रही दिक्कतों पर कुलपति और डीन ऑफ कॉलेजेस को पत्र भी लिखा था.

पत्र के बाद दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से एडहॉक शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर जरूरी सर्कुलर जारी किया गया है.

यह भी पढ़ें  दिल्ली मे आज से ही ट्रैफिक नियम हुए बहुत सख्त, नियम तोड़ने पर सीधा होंगे व्हीकल्स जप्त

सर्कुलर के मुताबिक जब तक शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हो जाती है, उन्हें किसी भी कॉलेज या विभाग से नहीं निकाला जाएगा. दिल्ली विश्वविद्यालय के अलग-अलग कॉलेज और डिपार्टमेंट में पढ़ा रहे हजारों एडहॉक शिक्षकों के लिए राहत भरी खबर है.