Delhi University ने स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए एक नई कंपनी खोलने की योजना बनाई,जाने क्या है

``` ```

Delhi University New Initiative: दिल्ली यूनिवर्सिटी एक नई कंपनी शुरू करेगी, उद्यमोदय फाउंडेशन. इसके माध्यम से स्टार्टअप को बढ़ावा दिया जाएगा और नए

प्रयोगों के लिए रस्ता खुलेगा.दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University) ने स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए एक नई कंपनी खोलने की योजना बनाई है.

इसका नाम है उद्यमोदय फाउंडेशन (Udhmodya Foundation). यही नहीं दिल्ली यूनिवर्सिटी एग्जीक्यूटिव काउंसिल (Delhi University Executive Council)

ने हर साल कंपनी को एक करोड़ रुपए की राशि देने की मंजूरी भी दे दी है. ये फंड डीयू के डेवलेपमेंट फंड (DU Development Fund) से दिए जाएंगे.

यही नहीं योजना के मुताबिक इसमें हर साल पांच प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की जाएगी. कंपनी को दिया जाने वाला 60 प्रतिशत

फंड इन्क्यूबेशन सेंटर को और बाकी का 40 प्रतिशत फंड एडमिनिस्ट्रेटिव कार्यों और सैलरी आदि पर खर्च किया जाएगा.

पिछले साल बनी थी कंपनी बनाने पर सहमति –
इस कंपनी को बनाने का प्रस्ताव पिछले साल इंस्टीट्यूट ऑफ एमिनेंस की गवर्निंग बॉडी की बैठक में आया था. इसी समय

यह भी पढ़ें  अब शराब की दुकान चलाने के लिए 'अच्छा चरित्र' होना जरूरी, जीएसटी और processing फीस को लेकर है ये नियम

इस योजना पर सहमति भी बनी थी. हालांकि कार्यकारी परिषद की सदस्य डॉ. सीमा दास समेत कुछ सदस्यों ने डेवलेपमेंट फंड से कंपनी शुरू करने के प्रस्ताव पर आपत्ति दर्ज करायी थी.

क्या कहना है अधिकारियों का –
डीयू के रजिस्ट्रार विकास गुप्ता ने इस बारे में कहा कि ‘कार्यकारिणी परिषद ने उद्यमोदय फाउंडेशन की गतिविधियों को बनाए रखने के लिए हर साल पांच प्रतिशत की वार्षिक

वृद्धि के साथ उद्यमोदय फाउंडेशन के निदेशक मंडल की सिफारिश (बैठक 5 जुलाई, 2022 को 1 करोड़ रुपये की मंजूरी के संबंध में) को मंजूरी दी है.’

एक और कंपनी खुलेगी –
डीयू के कुलपति योगेश सिंह ने इससे पहले विश्वविद्यालय में दो कंपनियां बनाने की घोषणा की थी. कुलपति ने कहा कि वे,

उद्यमोदय फाउंडेशन के अलावा विश्वविद्यालय के लिए फंड एकत्र करने के लिए एक सेक्शन 8 कंपनी भी बना रहे हैं.