दिल्ली को जल्द ही मिलेगी एक और अस्पताल की सौगात,बड़ी महामारी से लड़ने में मिलेगी मदद,जानेसुविधाएं

``` ```

Hospitals in Delhi राजधानी दिल्ली को एक और नया अस्पताल मिलने जा रहा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को सरिता विहार में 330 बेड के निर्माणाधीन सेमी

परमानेंट/टेंपरेरी आईसीयू अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि अक्टूबर-नवंबर तक अस्पताल बनकर तैयार हो जाने की उम्मीद है।

राजधानी दिल्ली को एक और नया अस्पताल मिलने जा रहा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को सरिता विहार में 330 बेड के निर्माणाधीन सेमी परमानेंट/टेंपरेरी आईसीयू

अस्पताल का निरीक्षण किया।उन्होंने कहा कि अक्टूबर-नवंबर तक अस्पताल बनकर तैयार हो जाने की उम्मीद है। हमने कोरोना के समय दिल्ली में सात अस्पताल बनाने शुरू किए थे

ताकि भविष्य में अगर कभी दोबारा कोरोना महामारी आती है तो बड़े स्तर पर आईसीयू बेड तैयार मिलें।

सीएम केजरीवाल पिछली सरकारों पर साधा निशाना

सीएम केजरीवाल ने कहा कि सरिता विहार के अस्पताल के लिए 20-25 साल पहले जमीन चिन्हित की गई थी। चुनाव से पहले हर पार्टी यहां आकर नारियल फोड़ा करती थी लेकिन

यह भी पढ़ें  दिल्ली वाहन मालिकों को ने पीयूसी प्रमाणपत्र नहीं बनवाया तो मोबाइल पर पहुंचेगा 10 हजार का ई-चालान

अस्पताल बनाने की नीयत किसी की नहीं थी। अन्य छह अस्पताल जनवरी तक बन जाएंगे। इस दौरान उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी मौजूद रहे।

काम हुआ पूरा

अस्पताल की नींव में मिट्टी और आरसीसी का काम, पीईबी संरचना का निर्माण, डेक शीट, आरसीसी स्लैब का काम पूरा हो गया है।

आंतरिक विभाजन, अग्नि पेंट, अग्रभाग, विद्युत सेवाएं और फिनिशिंग कार्य प्रगति पर है। सलाहकार द्वारा ड्राइंग में संशोधन और नवंबर-दिसंबर में प्रदूषण के कारण निर्माण

कार्यों पर प्रतिबंध के बाद कोरोना की लहर के कारण काम में देरी हुई।अस्पताल में मेटल इंसुलेटेड पैनल्स और कांच की दीवारें होंगी।

रोगी कारिडोर एरिया में आवाजाही एक डबल डोर वेस्टिबुल के जरिये होगी। चिकित्सा देखभाल स्टाफ और गैर तकनीकी

कर्मचारियों का प्रवेश और निकास मरीजों के प्रवेश प्वाइंट से अलग होगा। मरीजों और चिकित्सा देखभाल स्टाफ व आपूर्ति कारिडोर भी अलग-अलग होगा।

ऐसा होगा अस्पताल

पहले फ्लोर पर वेटिंग एरिया, रजिस्ट्रेशन रूम, इलेक्ट्रिक रूम, स्टाफ रूम, इमरजेंसी रूम, नर्स स्टेशन, फायर कंट्रोल रूम, सीटी स्कैन, एक्सरे, डायग्नोस्टिक रिसेप्शन, फार्मेसी, वार्ड

यह भी पढ़ें  Delhi -NCR और हरियाणा के लोग सस्ते में करें हवाई जहाज़ का सफर, 20 जून से 30 सितंबर तक इसकी करा सकते हैं बुकिंग

एरिया और मोर्चरी होगी। दूसरे तल पर वेटिंग एरिया, फार्मेसी, कैफेटेरिया, एएचयू रूम, वार्ड एरिया, नर्स स्टेशन होगा।

तीसरे तल पर स्क्रबिंग चेंजिंग रूम, लाकर रूम, सैंपल कलेक्शन रूम, रिकार्ड रूम, कोल्ड स्टोरेज रूम, लैब,

डाक्टर व स्टाफ के लिए डाइनिंग एरिया, ब्लड बैंक आदि होगा। चौथे तल पर ओटी, एएचयू रूम आदि होगा।

ये हैं दिल्ली के सात अस्पताल

दिल्ली में बन रहे इन सातों में सेमी आइसीयू अस्पतालों में 6830 बेड होंगे। शालीमार बाग में 1430 बेड, किराड़ी में 458 बेड, सुल्तानपुरी में 527 बेड,

चाचा नेहरू बाल चिकित्सालय में 596 बेड, जीटीबी अस्पताल में 1912 बेड, सरिता विहार में 330 बेड और रघुबीर नगर में 1577 बेड का सेमी आइसीयू अस्पताल बनाया जा रहा है।