DMRC ने जारी किया टेंडर एक बार फिर से पुरानी दिल्ली की संकरी गलियों से गुजरती हुई मेट्रो का तुल्फ उठा सकेंगे यात्री

``` ```

Delhi :दरअसल फेज-4 में मजेंटा लाइन के विस्तार के तहत जनकपुरी वेस्ट से रामकृष्ण आश्रम मार्ग के बीच जो नया कॉरिडोर बनाया जा रहा है,

उसी विस्तार के तहत मेट्रो पुरानी दिल्ली से होकर गुजरेगी यात्री एक बार फिर से पुरानी दिल्ली (Old Delhi) की संकरी गलियों से गुजरती हुई मेट्रो का तुल्फ उठा सकेंगे.

फेज-4 (Phase-4) में मजेंटा लाइन (Magenta Line ) के विस्तार के तहत जनकपुरी वेस्ट (Janakpuri West) से रामकृष्ण आश्रम मार्ग (Ramkrishna Ashram Marg)

के बीच जो नया कॉरिडोर बनाया जा रहा है, उसी विस्तार के तहत मेट्रो पुरानी दिल्ली से होकर गुजरेगी. नॉर्थ दिल्ली के डेरावाल नगर से एलिवेटेड मेट्रो अंडरग्राउंड हो जाएगी

और घंटाघर से पुरानी दिल्ली में प्रवेश करके पुल बंगश, सदर बाजार और नबी करीम से होते हुए रामकृष्ण आश्रम मार्ग पहुंचेगी.

DMRC ने किए टेंडर जारी, जल्द शुरू होगा काम
पुरानी दिल्ली में बनने वाले ये सभी मेट्रो स्टेशन पहले की तरह ही अंडरग्राउंड होंगे, क्योंकि एलिवेटेड स्टेशन बनाने के लिए यहां पर्याप्त जगह की कमी है.

यह भी पढ़ें  दिल्ली में गर्मियों में यहां मौज-मस्ती करने का बनाएं प्लान, इतना सस्ता प्लान मात्र 350₹ देखे लिस्ट

डीएमआरसी ने इसके लिए टेंडर जारी कर दिए हैं और जल्द ही निर्माण कार्य भी शुरू हो जाएगा.

पुरानी दिल्ली से गुजरी थी वॉयलेट लाइन
फेज-3 के एक हिस्से के रूप में वॉयलेट लाइन का केंद्रीय सचिवालय से कश्मीरी गेट तक विस्तार किया गया था. उस दौरान मेट्रो आईटीओ से आगे चलकर दिल्ली गेट से पुरानी

दिल्ली में प्रवेश करके जामा मस्जिद और लाल किले से होते हुए कश्मीरी गेट तक पहुंची थी. यह पूरा कॉरिडोर भी अंडरग्राउंड था, जिसका निर्माण कार्य 2013 से 2017 के बीच हुआ था.


मेट्रो विस्तार से बढ़ेगी रेड लाइन की कनेक्टिविटी
पुल बंगश में मेट्रो की रेड लाइन पर एक एलिवेटेड स्टेशन पहले से ही बना हुआ है. अब उसी के बगल में एक नया अंडरग्राउंड स्टेशन बनाकर इसे एक इंटरचेंज स्टेशन के रूप में तब्दील

किया जा रहा है, जिससे उत्तरी दिल्ली और उत्तर-पूर्वी दिल्ली के बीच लोगों का आना-जाना और आसान हो जाएगा.

यह भी पढ़ें  दिल्ली सरकार ने जारी किया एक फरमान कागजी कार्यो से किया सरकारी विभाग को आजाद