दिल्ली में लागू होगी इलेक्ट्रिक सिटी योजना, इसके तहत होंगे ये बड़े बदलाव। जाने

``` ```

दिल्ली सरकार ने इलेक्ट्रोनिक उपकरण की सेवा और बिक्री, निर्माण, डिजाइन से जुड़ी नौकरी और निवेश के लिए बड़ी पहल की है. सरकार के थिंक टैंक डायलॉग एंड डेवलपमेंट कमीशन (DDC) ने आज EPIC इलेक्ट्रॉनिक्स प्रोडक्ट फाउंडेशन के साथ इलेक्ट्रॉनिक सिटी का मंसूबा विकसित और लागू करने के लिए समझौता किया है. पिछले महीने विधानसभा के बजट सत्र में इसका एलान किया गया था. बजट में दिल्ली में इलेक्ट्रॉनिक्स सिटी के लिए योजना का एलान करते हुए उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा था कि पहल से पांच वर्षों में 80,000 नौकरी का सृजन होगा.

दिल्ली सरकार की कवायद

डायलॉग एंड डेवलपमंट कमीशन के उपाध्यक्ष जसमीन शाह ने कहा कि साझेदारी का उद्देश्य है दिल्ली में स्वस्थ, प्रतिस्पर्धी इलेक्ट्रॉनिक्स डिजाइन-निर्माण-सेवा बाजार को विकसित करना. उन्होंने कहा, “दिल्ली इलेक्ट्रॉनिक्स सिटी की पहल से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय मांग को पूरा करने के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स की सेवा डिजाइन, निर्माण, बिक्री को बढ़ावा मिलेगा.” समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर डीडीसी और EPIC इलेक्ट्रॉनिक्स प्रोडक्ट फाउंडेशन के बीच किया गया. इस मौके पर शाह के अलावा EPIC के चेयरमैन अजय चौधरी भी मौजूद थे.

यह भी पढ़ें  दिल्ली से आगरा का सफर हुआ महंगा, इन 3 जगह मिलेंगे टोल, और इतने देने होंगे charges. देखे।

डीडीसी ने किया समझौता


EPIC के चेयरमैन अजय चौधरी ने कहा, “हमें डीडीसी दिल्ली और दिल्ली स्किल डेवलपमेंट संगठनों के साथ काम करने पर खुशी हो रही है.” उन्होंने बताया कि साझेदारी से रोजगार के अवसरों को बढ़ावा मिलेगा, दिल्ली में आईटी कंपनियों को आकर्षित करने और इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माण को प्रोत्साहन मिलेगा. शाह ने कहा कि सहयोग केजरीवाल सरकार के आधुनिक दृष्टिकोण को हासिल करने में मील का पत्थर साबित होगा. EPIC डीडीसी की शैक्षणिक, मानवीय और दूसरे संसाधनों तक पहुंच में मदद करेगा.