#दिल्ली#Delhi मे CNG PNG के दाम को कम करने की सरकार ने की नयी योजना की घोषणा

``` ```

CNG-PNG Price Update: शहरी गैस वितरक कंपनियां अभी तक मिल रहे आवंटन के जरिए 83 फीसदी मांग पूरी कर पा रही थीं.

जबकि, बाकी आपूर्ति के लिए उच्च कीमत पर एलएनजी का आयात किया जा रहा था. इसकी वजह से सीएनजी और पीएनजी के दामों में भी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है.

अगर आप सीएनजी वाहन (CNG Vehicle) चलाते हैं या फिर आपके घर में पीएनजी (PNG) कनेक्शन है, तो यह खबर आपको राहत देने वाली है.

दरअसल, जल्द ही इनके दाम में गिरावट आ सकती है. सरकार ने इस संबंध में एक बड़ा फैसला लिया है, जिससे लगातार बढ़ रहीं CNG और PNG कीमतों पर ब्रेक लगने की उम्मीद जगी है.

कीमतों में तेजी ने बिगाड़ा बजट
बीते कुछ समय से CNG और PNG के दाम में जोरदार तेजी का दौर जारी है. इनके दाम बढ़ने से पहले से महंगाई (Inflation) की मार झेल रही जनता का खर्च और भी बढ़

यह भी पढ़ें  दिल्ली में ऑटो-टैक्सी सेवा भी हो सकती है महंगी, पेट्रोल-डीजल और सीएनजी के बढ़ते दाम निकाल रहे आम आदमी का तेल

गया है. ऐसे में सरकार ने लोगों को राहत देने के लिए प्राकृतिक गैस की कुछ मात्रा इंडस्ट्रीज या उद्योगों से लेकर शहरी गैस वितरण कंपनियों

(City Gas Companies) को आवंटित करने का फैसला किया है. इससे आने वाले समय में दोनों की कीमतें कम होने की उम्मीद है.

सरकार ने इतना बढ़ाया आवंटन
पेट्रोलियम मंत्रालय (Petrolium Ministry) ने बुधवार को इस संबंध में जारी की गई अधिसूचना में कहा कि पहले के आदेश में संशोधन करते हुए गैस वितरण कंपनियों को घरेलू

स्तर पर उत्पादित गैस का आवंटन बढ़ाया जा रहा है. इसके तहत दिल्ली में इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (IGL) और मुंबई में महानगर गैस लिमिटेड (MGL) जैसी शहरी गैस वितरक

कंपनियों के आवंटन को 1.75 करोड़ घन मीटर प्रतिदिन से बढ़ाकर 2.078 करोड़ घन मीटर किया गया है.

नोटिफिकेशन में ये भी कहा गया कि शहरी गैस वितरक कंपनियों को अब घरेलू गैस की आपूर्ति उपलब्धता के आधार या गेल को ट्रांसपोर्ट सीएनजी व डोमेस्टिक पीएनजीके लिए

यह भी पढ़ें  दिल्ली की सड़कों पर आरामदायक सीट, सीसीटीवी और पैनिक बटन की सुविधा के साथ दौड़ेंगी प्रीमियम बसें

किए गए आवंटन के आधार पर होगी. पिछली तिमाही में उपभोग के स्तर की तुलना में 102.5 फीसदी आपूर्ति की गई थी.

आवंटन बढ़ने से होगा ये फायदा
सरकार के आवंटन बढ़ाने के इस फैसले का बड़ा असर दिखाई देगा. दरअसल, फिलहाल शहरी गैस वितरक कंपनियों को जो आवंटन किया जा रहा था,

उससे 83 फीसदी मांग पूरी की जा रही थी. जबकि, बाकी आपूर्ति के लिए उच्च कीमत पर एलएनजी का आयात किया जा रहा था. जिसकी वजह से CNG और PNG के दामों में भी बढ़ोतरी देखने को मिल रही थी.

लेकिन, आवंटन में इजाफा होने के बाद अब कंपनियां 94 फीसदी मांग को पूरा करने में सक्षम होंगी.

एक साल में दोगुनी महंगी CNG
एक मीडिया रिपोर्ट की मानें तो बीते एक साल के भीतर सीएनजी के दाम करीब दोगुने तक बढ़ गए हैं और यह पेट्रोल के नजदीक पहुंचती जा रही है.

मुंबई में सीएनजी-पीएनजी की कीमतों में तेज इजाफा देखने को मिला है. इसी महीने आर्थिक राजधानी में महानगर गैस लिमिटेड (MGL) सीएनजी 6 रुपये प्रति किलो और पीएनजी 4 रुपये प्रति यूनिट महंगी हो चुकी है.

यह भी पढ़ें  दिल्ली से गाजियाबाद के रस्ते मेरठ पहुंचना हुआ आसान, शुरू होने जा रहा ये शानदार रेल नेटवर्क; जानें खूबियां

रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई में सीएनजी की कीमत जुलाई 2021 में 49.40 रुपये प्रति किलो थी, जो हालिया वृद्धि के बाद 86 रुपये प्रति किलो हो चुकी है.

दिल्ली में यहां पहुंच गए दाम

दिल्ली की बात करें तो यहां इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (IGL) पिछले दिनों द‍िल्‍ली में सीएनजी की कीमत में बंपर 4 रुपये प्रत‍ि क‍िलोग्राम की बढ़ोतरी की थी.

इसके बाद कीमत 75.61 रुपये क‍िलोग्राम पर पहुंच चुकी है. इसके अलावा इस महीने पीएनजी के दाम में 2.63 रुपये प्रति यूनिट की बढ़ोतरी की गई और यह 50.59 रुपये प्रति स्टैंडर्ड क्यूबिक मीटर पर पहुंच गई है.