दिल्ली नोएडा एक्सप्रेस वे पर गड्ढे के कारण भारी जाम, निकलने से पहले चुन ले कोई और विकल्प

``` ```

कॉलिंदी कुंज रास्ते पर दिल्ली से नोएडा की ओर आते समय सड़क पर गड्ढे होने से सोमवार को यहां दिन भर जाम की समस्या रही।

गड्ढे से एक-एक कर ही गाड़ी निकल पा रही थी जिससे जाम लगा।नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे पर मरम्मत के काम के कारण वाहन चालकों को सोमवार को भी तीन किलोमीटर लंबे जाम

में फंसना पड़ा। लोगों को परेशानी कम से कम दो माह और झेलनी पड़ेगी, क्योंकि प्राधिकरण अधूरे काम को पूरा करने लिए निर्माण कंपनी पर 50 लाख के जुर्माने के साथ दो महा

मोहलत देने की तैयारी में है।नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे की मरम्मत का अभी 65 प्रतिशत काम बचा हुआ है। इसे पूरा करने के लिए निर्माण कंपनी सीएस इंफ्रा कंस्ट्रक्शन कंपनी ने

30 नवंबर तक मोहलत मांगी थी। इस पर अब नोएडा प्राधिकरण 50 लाख रुपये के जुर्माने के साथ दो महीने की मोहलत देने की तैयारी में है।

फाइल पर सीईओ की मंजूरी होते ही कंपनी पर जुर्माना लगाने और अतिरिक्त समय देने की प्रक्रिया पूरी कर दी जाएगी। ऐसे में निर्माण कंपनी को 30 सितंबर तक काम पूरा करने का समय मिलेगा।

पहले चरण के तहत एक्सप्रेस वे पर पूरा काम हो चुका है। दूसरे चरण में अभी 35 प्रतिशत ही काम हो सका है। नौंवी डेडलाइन के तहत 30 जून 2022 तक काम पूरा कर लिया

यह भी पढ़ें  दिल्ली सरकार द्वारा चलाया गया १५ दिनों का धूल प्रदूषण अभियान

जाना चाहिए था। अब दसवीं डेडलाइन के रूप में 30 सितंबर 2022 तक का समय देने की तैयारी है। अधिकारियों ने बताया कि कंपनी पर कुल दो करोड़ 22 लाख रुपये का जुर्माना हो जाएगा।

गड्ढा होने से कालिंदी कुंज पर दिक्कत
कॉलिंदी कुंज रास्ते पर दिल्ली से नोएडा की ओर आते समय सड़क पर गड्ढे होने से सोमवार को यहां दिन भर जाम की समस्या रही। गड्ढे से एक-एक कर ही गाड़ी निकल पा रही थी जिससे जाम लगा।

रोजाना आफत
सोमवार सुबह-शाम नोएडा से ग्रेटर नोएडा की ओर जाने वाले वाहन चालक यहां तीन किलोमीटर से अधिक लंबे जाम में फंसे रहे।

ग्रेनो के अल्फा वन निवासी रमेश चंद का कहना है कि यहां करीब दो सप्ताह से रोजाना जाम की समस्या हो रही है। ऑफिस से लौटते समय एक घंटे तक का समय बर्बाद हो रहा है।

वहीं सेक्टर-62 मॉडल टाउन गोलचक्कर, पर्थला गोलचक्कर, कालिंदी कुंज, डीएनडी लूप आदि जगह पर भी जाम की समस्या रही।

यह भी पढ़ें  दिल्ली सरकार ने लोगो को जाम का अलर्ट देने के लिए 86 जगहों पर लगवाई LED स्क्रीन,जनता को होगा फायदा