दिल्ली-NCR मे 60KM तक के दायरे में हटाए जाएंगे आने वाले टोल बूथ आसपास के लोगों को मिलेंगे फ्रीपास

``` ```

नई दिल्ली : देश में कई नेशनल हाइवे बनाने पर काम किया जा रहा है। सरकार का लक्ष्य 2024 तक भारत की सड़क मार्गों का इन्फ्रास्ट्रक्चर अमेरिका जैसा करना है।

इसके लिए सरकार तेजी से काम कर रही है। हालांकि नए हाइवे तो बनाए जा रहे हैं लेकिन इन हाइवे पर सफर करना

वाकई महंगा हो गया है। बहुत कम कम दूरी पर टोल प्लाज़ा बनाए गए हैं जिससे लोगों की ज़ेब पर भार पड़ रहा है।

लगातार बढ़ाया जा रहा है टोल टैक्स टोल प्लाज़ा पर लगातार टोल टैक्स भी बढ़ाया जा रहा है। ये शिकायतें सरकार को भी भेजी जा रही हैं। लेकिन सरकार इस समस्या का समाधान करने वाली है।

हाल ही में केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने लोकसभा में सरकार की टोल टैक्स को लेकर नई योजना को बताया है जिसमें लोगों कोई काफी लाभ मिलने वाला है। आइए जानते हैं

कई जगहों से हटाए जाएंगे टोल प्लाज़ा देश में हाइवे पर सफर करना टोल टैक्स के कारण महंगा होता जा रहा है। कई वाहन चालकों ने सरकार को शिकायत दी है कि एक टोल प्लाज़ा के 10 किमी के बाद ही दूसरा टोल

यह भी पढ़ें  दिल्ली मेट्रो की कनेक्टिविटी को बेहतरीन करने के लिए सितंबर से जुड़ रहे है 7 नए स्टेशन, जाने नए रूट

प्लाज़ा आ जाता हैं जिससे यात्रियों के लिए सफर काफी महंगा हो गया है। लेकिन अब नितिन गडकरी ने सरकार की

नई योजना के बारे में बताया है जिसके अनुसार अब 60 किमी के दायरे में सिर्फ़ एक ही टोल प्लाज़ा बनाया जाएगा।

हटाए जाएंगे अतिरिक्त टोल वहीं जितने ही टोल अतिरिक्त हैं उन्हें हटा दिया जाएगा। 60 किमी के दायरे में यात्रियों को सिर्फ एक बार ही टोल देना होगा और बाकी टोल प्लाज़ा को हटाने का काम भी तीन महीने के

अंदर करने की बात कही जा रही है। ऐसे में टोल प्लाज़ा की संख्या सीमित हो जाएगी और यात्रियों की जेब पर भी भार नहीं पड़ेगा।

स्थानीय लोगों को नहीं देना होगा टैक्स दरअसल हाइवे के किनारे रहने वाले लोगों ने सरकार से कहा था कि उन्हें अपने पास वाले गाँव में जाने के लिए भी टोल देना होता है।

जबकि वे आस पास ही रहते हैं। इस समस्या का समाधान करने के लिए भी सरकार पास जारी करेगा जिससे स्थानीय लोगों को टोल देने की जरूरत नहीं होगी। पास जरिये वे हाइवे पर फ्री सफर कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें  दिल्ली में खुले में कूड़ा जलाने वाले सुधर जाए, वर्ना पड़ेगा महंगा, सरकार ने उठाया बड़ा कदम।