भारतीय रेलवे ने की महिलाओं के लिए पहल,अब आरपीएफ की मेरी सहेली टीम रखेगी ख्‍याल अकेली और गर्भवती महिलाओं का

``` ```

त्योहारों से पहले आरपीएफ की मेरी सहेली टीम को पूरी तरह से चौकस रहने का पाठ पढ़ाया गया है। उन्हें विशेष निर्देश दिए गए हैं कि ट्रेन में अकेले सफर करने वाली महिला

और गर्भवती महिला का विशेष ध्यान रखें और उन्हें हमेशा सहायता उपलब्ध करवाने के लिए तैयार रहें। निर्देशों की अनुपालना के तहत छावनी आरपीएफ पोस्ट पर तैनात मेरी

सहेली टीम ने कार्य आरंभ कर दिया है।स्टेशन पर आने वाली ट्रेनों में गहन चैकिंग अभियान चलाया जा रहा है और ट्रेन में सफर करने वाले महिलाओं से बातचीत की जा रही है।

वहीं अन्य यात्रियों से भी जानकारी मांगी जा रही है कि उनके साथ कोई गर्भवती महिला को सफर नहीं कर रही है।

जबकि उन्हें किसी भी विषम परिस्थिति में रेलवे हेल्पलाइन नंबर 139 पर जानकारी देने के लिए भी प्रेरित किया जा रहा है।

मोबाइल व एड्रेस किया जा रहा नोट

आरपीएफ की मेरी सहेली टीम की इंचार्ज एसआई निशा व कविता ने बताया कि 8 कर्मचारियों की उक्त कार्य के लिए तैनाती की गई है जो 24 घंटे कार्य कर रही हैं।

यह भी पढ़ें  DL का झंझट खत्म! बिना ड्राइविंग लाइसेंस के कहीं भी घूमें फिर भी नहीं पकड़ेगी पुलिस

उन्हें जैसे ही महिला के संबंध में कोई भी जानकारी मिलती है तो वह तुरंत ट्रेन में पहुंचकर महिला यात्रियों को राहत प्रदान करने का काम कर रही हैं।

त्योहार आरंभ हाेने से पहले ही आरपीएफ के उच्चाधिकारियों ने सभी कर्मचारियों की छुट्टियां रद कर दी हैं। सभी को अपने निर्धारित स्थान पर तैनात रहेने के सख्त निर्देश दिए गए हैं।

वहीं कार्यस्थलों का औचक निरीक्षण करने के लिए विभागीय अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। सभी कर्मचारियों को

निर्देश दिए गए हैं कि वह सुरक्षा को लेकर पूरी तरह से सतर्क रहें और किसी प्रकार की लापरवाही न बरतें।

ट्रेन में सफर करने वाले अकेली और गर्भवती महिलाओं की सुरक्षा को लेकर मेरी सहेली टीम को विशेष निर्देश दिए गए हैं ताकि किसी भी जरूरत के समय उन्हें तुरंत सहायता उपलब्ध

करवाई जा सके। वहीं आगामी त्योहारों को देखते हुए कर्मचारियों की छुट्टियां रद कर दी गइ है। गंभीर मामले को ही छुट्टी के आवेदन हेतु स्वीकार किया जाएगा।”

यह भी पढ़ें  दिल्ली NCR में दो दिन से हो रही बारिश से DND पर वाहनों की रफ्तार धीमी, जलभराव से कई जगहों पर जाम