दिल्ली के नरेला तक चलेगी मेट्रो जाने रूट।

``` ```

दिल्ली के नरेला में भी अलग मेट्रो रूट होगा और इसके लिए लगातार बैठक हो रही है. वहीं अब दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने चौथे फेज के लिए प्रस्तावित रिठाला-नरेला कॉरिडोर के निर्माण के लिए दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) को 130 करोड़ रुपये जारी किए हैं. डीडीए का मानना है कि इस मेट्रो कनेक्टिविटी से नरेला में प्लॉटिंग के साथ साथ नरेला को शहर की कनेक्टिविटी से भी जोड़ा जाएगा. इसके लिए डीडीए और डीएमआरसी एक साथ काम कर रहे हैं, ताकि उत्तर-पश्चिम दिल्ली के दूर-दराज के इलाकों में मेट्रो कनेक्टिविटी लाई जा सके. रिठाला-बवाना-नरेला के लिए रूट पहले ही डीएमआरसी द्वारा अपने चौथे फेज की परियोजना के हिस्से के रूप में प्रस्तावित किया गया है.


डीएमआरसी के अनुसार लैंड पूलिंग पॉलिसी के तहत जनरल रैपिड ट्रांसपोर्ट सिस्टम के अभाव में दिल्ली के अन्य क्षेत्रों की तुलना में नरेला उप-शहर की डीडीए आवास योजनाओं को कम पसंद किया गया था. हालांकि अब प्रस्तावित मेट्रो मार्ग से नरेला के लोगों की पहुंच और कनेक्टिविटी में सुधार होगा. डीडीए ने प्रस्तावित मेट्रो रूट के समय पर कार्यान्वयन के लिए 130 करोड़ रुपये जारी किए हैं, जिसमें से कुल 1,000 करोड़ रुपये कॉरिडोर के लिए हैं.

यह भी पढ़ें  Flipkart की बेस्ट डील ऑफ़ डे 27% की भारी छूट 3 स्टार AC घर लाये मात्र 1000 रूपए mai

डीडीए किफायती सार्वजनिक परिवहन साधनों के लिए मेट्रो और शहरी विस्तार सड़क के एकीकृत निर्माण के लिए एनएचएआई और डीएमआरसी के साथ भी समन्वय कर रहा है. नरेला उप-शहर डीडीए की तीन उप-शहर परियोजनाओं में से एक है, जिसमें द्वारका और रोहिणी शामिल हैं. डीडीए द्वारा डीएमआरसी और अन्य स्टेकहोल्डर्स के साथ इस कॉरिडोर के लिए मेट्रो रूट को अंतिम रूप देने के लिए कई बैठकें आयोजित की गई थीं.