दिल्ली से ओखला,कालिंदी कुंज, महारानी बाग़ तक का सफर होगा जल्द तय बनने जा रहा है लम्बा रूट।

``` ```

ओखला, जामिया नगर व बटला हाउस जैसी घनी आबादी वाले इलाके में रहने वाले लाखों लोगों को जल्द ही जाम से राहत मिलने की उम्मीद है। लोगों को जाम से राहत दिलाने के लिए नदी के किनारे-किनारे महारानी बाग से लेकर कालिंदी कुंज तक चार छह किलोमीटर की सर्विस रोड बनाई जाएगी। यहां पहले से ही बन रहे दिल्ली-मुंबई हाइवे के पैरलल बनने वाली यह सर्विस रोड चार लेन की होगी। इससे इस इलाके में रहने वाले लाखों लोगों का आना- जाना आसान व सुविधाजनक हो जाएगा। इस सड़क के बन जाने से लोगों को जाम से तो राहत मिलेगी ही, आने-जाने में लगने वाला समय भी बचेगा।

इस सर्विस रोड के बन जाने से कालिंदी कालोनी, सिद्धार्थ एनक्लेव, आश्रम, किलोकरी व एनएफसी आदि के लोगों के लिए भी कालिंदी कुंज जाना आसान हो जाएगा। दरअसल, अभी नदी के किनारे दिल्ली-मुंबई हाइवे के हिस्से का निर्माण हो रहा है। सराय कालेखां से कालिंदी कुंज चौराहे तक का यह हिस्सा एलिवेटेड है जिसे एनएचएआइ बना रहा है। हाइवे का एलिवेटेड रोड बन जाने के बाद इसके नीचे महारानी बाग से कालिंदी कुंज तक सर्विस रोड बनाई जाएगी। इसे कालिंदी कुंज पर शाहीन बाग के पास दिल्ली-नोएडा रोड में जोड़ा जाएगा। इससे सबसे ज्यादा आराम उन लोगों को होगा जो लोग बटला हाउस, जोगाबाई, जोगाबाई एक्सटेंशन, जामिया नगर, ओखला आदि घनी आबादी वाले इलाके में रहते हैं और उन्हें कालिंदी कुंज जाने के लिए संकरी गलियाें में होकर जाना पड़ता है।

यह भी पढ़ें  दिल्ली वालों अपनाओ ये तरीका, बिजली का बिल आयेगा आधे से भी कम। सरकार ने उठाया बड़ा कदम

अतिक्रमण पर भी लगाम लगेगी

बटला हाउस आदि इलाकों में अभी नदी के किनारे पर अवैध रूप से निर्माण होता जा रहा है। अवैध निर्माण नदी की ओर बढ़ता ही जा रहा है, लेकिन यह सड़क व डिवाइडर बन जाने से अतिक्रमण पर लगाम लग जाएगी। दरअसल, यह सड़क अतिक्रमणकारियों के लिए सीमा रेखा का काम करेगी और वे सड़क के उस पार तक ही सीमित होकर रह जाएंगे। विभागीय सूत्रों का कहना है कि अतिक्रमण पर लगाम लगाने के लिए एलिवेटेड रोड के नीचे बाउंड्री भी बनाई जाएगी ताकि लोग उसका उल्लंघन कर इस बाढ़ क्षेत्र में अवैध निर्माण न कर सकें।