दिल्ली में लोगों को जल्द ही मिलेगा अतिक्रमण की समस्या से समाधान अवैध पार्किग पर चलेगा बुलडोज़र

``` ```

Delhi News दिल्ली में लोगों को जल्द ही अतिक्रमण की समस्या से समाधान मिलेगा। दरअसल अभी तक एमसीडी और डीडीए के पास सड़कों से अतिक्रमण हटाने की जिम्मेदारी

थी लेकिन अब पुलिस को अतिक्रमण हटाने की जिम्मेदारी मिली है।राजधानी दिल्ली में लोगों को जल्द ही अतिक्रमण की समस्या से समाधान मिलेगा।

दरअसल, अभी तक एमसीडी और डीडीए के पास सड़कों से अतिक्रमण हटाने की जिम्मेदारी थी, लेकिन अब पुलिस को अतिक्रमण हटाने की जिम्मेदारी मिली है।

फिलहाल, अतिक्रमण हटाने को लेकर दिल्ली पुलिस के आयुक्त संजय अरोड़ा ने सभी जिलों के डीसीपी और एसएचओ से एक्शन प्लान मांगा है।

धार्मिक स्थलों, सड़कों और अन्य मुख्य जगहों को अतिक्रमण मुक्त कराने की पूरी जिम्मेदारी पुलिस की रहेगी।

सड़क हादसों को अतिक्रमण से मिलता है बढ़ावा

पुलिस अफसरों का कहना है कि कमिश्नर ने मीटिंग के दौरान ही सभी जिलों को डीसीपी को इस अभियान की जानकारी दे दी थी। इसलिए अब सभी थानों से अपने इलाके के अतिक्रमण

यह भी पढ़ें  मकान आवंटन के लिए ई-आवास पोर्टल बना रही है दिल्ली सरकार, राहत की उम्मीद

वाले फुटपाथों की लिस्ट बनाने को कहा जाएगा। ट्रैफिक पुलिस भी अपनी तरफ से सभी जिलों को उन फुटपाथों की जानकारी देगी,

जिनकी वजह से सड़क हादसे होते हैं। फुटपाथ पर कब्जा होने से लोग सड़कों पर चलते हैं और हादसों का खतरा बना रहता है।

इन जगहों पर अतिक्रमण की समस्या

दिल्ली के हौज खास, खान मार्केट, पालम, तिलक नगर, हरि नगर, रिंग रोड, सीआर पार्क, ग्रेटर कैलाश और गुरुद्वारा रोड, सीमापुरी बार्डर आदि जगहों पर अतिक्रमण की समस्या काफी

ज्यादा है। यहां हालत इतने खराब है कि लोग सड़क और फुटपाथ पर ही दुकानें सजा लेते हैं। ऐसे में लोगों का पैदल आना-जाना भी मुश्किल हो जाता है।

आईपीसी की इन धाराओं में होती है कार्रवाई दअरसल अतिक्रमण करने वाले व्यक्ति के खिलाफ पुलिस आईपीसी की धारा 188 व 283 के तहत मामला दर्ज करती है। इसमें सरकारी आदेश का उल्लंघन करने का मामला दर्ज

किया जाता है। हर थाने में ऐसे हर रोज काफी मामले दर्ज होते हैं। इसके बावजूद दिल्ली में अतिक्रमण खत्म नहीं हो रहा है और आम लोगों का जीना मुश्किल हो रहा है।

यह भी पढ़ें  दिल्ली में 80 एकड़ में बनेगी इलेक्ट्रानिक सिटी, सबसे पहले इन नौ उत्पादों का होगा कारोबार

बड़े स्तर पर चलेगा अतिक्रमण हटाने के लिए अभियान

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक राजधानी में फुटपाथों और मुख्य सड़कों से अतिक्रमण हटाने के लिए बड़े स्तर पर अभियान चलाया जाएगा। अतिक्रमण हटाने से पैदल चलने

वाले लोगों को फायदा होगा। कमिश्नर ने एमसीडी और एनडीएमसी से को-ऑर्डिनेट करने के निर्देश भी दिए हैं। पुलिस अफसरों ने बताया कि अतिक्रमण हटाने के लिए दोनों संबंधित

एजेंसी की मदद ली जाएगा। स्थायी और अस्थायी दोनों तरह के एनक्रोचमेंट हटाने के संसाधन इन दोनों के पास ही हैं। फिलहाल, लोगों को खुद से अतिक्रमण हटाने के लिए भी जागरूक किया जाएगा।