दिल्ली से सटी ऐसी जगह जहां आधी रात में महिलाएं लगाती हैं कपड़ों का बाजार, टोर्च जलाकर खरीदते हैं लोग सामान

``` ```

दिल्ली में आपने वैसे तो कई मार्केट देखी होंगी, लेकिन क्या आपने इस बाजार के बारे में सुना है, जहां महिलाएं रात के चार बजे तक सड़क पर बैठकर अपनी दुकानें लगाकर रखती हैं।

जी हां, ये एकदम सच है, महिलाएं शाम से शुरू करती हैं और सुबह 4 बजे तक बैठकर कई कपड़ों और जरूरी सामानों की दुकानें लगाती हैं।

अगर आप भी दिल्ली की कुछ स्पेशल जगहों से शॉपिंग करना चाहते हैं, तो एक बार इस बाजार में जरूर जाएं। इस तरह आपकी आउटिंग भी हो जाएगी और देख भी पाएंगे कि

आखिर इस मार्केट में ऐसा क्या खास है। दिलचस्प बात तो ये है कि यहां 70 से 80 प्रतिशत दुकानदार महिलाएं होती हैं।

आधी रात में लगने वाला बाजार कहां है – Market is in Raghubir Nagar ये मार्केट दिल्ली के पश्चिमी हिस्से में रघुबीर नगर में है, यहां आपको पुराने कपड़ों का बाजार दूर से ही नजर आ जाएगा। पांच एकड़ जमीन में फैले इस मार्केट को उत्तर भारत का

सबसे बड़ा पुराने कपड़ों का बाजार माना जाता है। मार्केट रात के 12 बजे से शुरू होकर सुबह 4 बजे तक खुली रहती है। आपको बता दें,

यह भी पढ़ें  दिल्ली से मुंबई के बीच बनेगा इलेक्ट्रिक हाईवे, लाखो लोगो को मिलेगा फायदा

इस बाजार के ज्यादातर दुकानदार गुजरात के वाघरी समाज के हैं, जो काम की तलाश में गुजरात से दिल्ली आए थे। ये हैं गुड़गांव के सबसे सस्‍ते ‘Wholesale Market’, कम कीमत में कर लेंगे ढेर सारी शॉपिंग

टॉर्च की रोशनी में खरीदारी – बता दें कि रघुबीर नगर के इस बाजार में 5000 से ज्यादा दुकानें हैं। इन दुकानों पर ज्यादातर महिलाएं बैठती हैं। चूंकि रात के समय में लोग सामान खरीदने आते हैं,

इस वजह से लोग अपने साथ एक टोर्च भी लेकर आते हैं, ताकि सामान की खरीदारी अच्छे से हो सके। 30 की उम्र में दिल्ली की ये 5 चीजें निपटा लें फटाफट, वरना कहीं पछताते न रह जाएं आप

लोगों के दिमाग में सबसे बड़ा सवाल यही आता है कि आखिर माल ये आता कहां से है? आपको बता दें, महिलाएं दिल्ली के कई इलाकों में फेरी लगाकर पुराने कपड़ों के बदले नए बर्तन

बेचती हैं। वहां जमा हुए कपड़ों को ठीक करके वे उन्हें रात में कम दाम में बेचती हैं। इस बाजार में काफी सस्ते दामों पर कपड़े बेचे जाते हैं,

यह भी पढ़ें  दिल्ली की जनता के लिए MCD ने प्रॉपर्टी टैक्स की दरों मे की बढ़ोतरी जाने कितना फीसदी हुआ इजाफा

जिस वजह से यहां लोगों की आधी रात में अच्छी खासी भीड़ देखी जा सकती है। भारत के ये बाजार हो चुके हैं 200 साल से भी ज्यादा पुराने, लेकिन फिर भी खरीदारों की लिस्ट में रहते

हैं सबसे ऊपर महिलाओं द्वारा कपड़ों को ठीक करने के बाद इन्हें बाजार में बेचने का सिलसिला शुरू होता है। यहां आपको जूते 50 से 100 रुपए में, शर्ट 10 से 30 रुपए में,

पैंट 10 से 50 रुपए में, जींस 20-30 रुपए में, लेडीज टॉप 10-50 रुपए में और साड़ी 20-40 रुपए में मिल जाएगी। ‘North Delhi’ की इन जगहों पर कितना घूमें हैं आप, यहां रहने वाली जगहों के बारे में शायद ही

आधी रात को इकट्ठा होते हैं दुकानदार रघुबीर नगर का ये बाजार सुबह 4 बजे से शुरू होता है, लेकिन इस बाजार में दुकानदारों की बिक्री रात के 12 बजे से शुरू हो जाती है। अगर आपको यहां से खरीदारी करनी है,

यह भी पढ़ें  दिल्ली-हरियाणा के शराब विक्रेताओं में छिड़ा प्राइस वॉर, राजधानी में सस्ती होने से पियक्कड़ों की मौज

तो जितना जल्दी हो सके, उतनी जल्दी यहां से शॉपिंग करके ले जाएं। दिल्ली, जयपुर, अलवर, फरीदाबाद, मेरठ, मथुरा, सिरसा, हिसार, चंडीगढ़, लुधियाना, पटियाला यानी राजस्थान

, यूपी, हरियाणा, पंजाब और गुजरात से लोग इस बाजार से सामान खरीदने आते हैं। यही नहीं, हर शहर और कस्बों से भी यहां लोग शॉपिंग के लिए आते हैं।

ये है दिल्ली में थोक कपड़ों का सबसे बड़ा मार्केट, मात्र 1000 रुपए में सालभर की कर लेंगे शॉपिंग

बड़े व्यापारी भी आते हैं – इस बाजार में कई बड़े व्यापारी भी आते हैं, आप सोच रहे होंगे कि बड़े व्यापारियों को पुराने कपड़ों में क्या दिलचस्पी है, तो हम आपको बता दें,

वो यहां से उन्हें कम दाम में खरीदकर उन्हें ठीक करके अपने यहां ऊंचे दाम में बेचते हैं। कुल मिलाकर इस बाजार की वजह से कई परिवारों के घर चल रहे हैं। अगर आप अभी तक इस बाजार में नहीं गए हैं तो एक बार जरूर जाएं।