दिल्ली के विद्यालयों में सुरक्षित नहीं शिक्षक, स्टूडेंट्स की कम्प्लेन पर पेरेंट्स ने टीचर्स की की पिटाई, जाने पूरी बात

``` ```

पूर्वी दिल्ली में शिक्षक और अभिभावकों के बीच तनातनी की खबर आ रही है। इसी क्रम में अभिभावकों ने शिक्षक को पीट दिया है। शिक्षकों ने इसके बाद जीटीबी थाने सामने धरने पर

बैठ गए हैं। यह मामला है राजकीय सर्वोदय बाल विद्यालय जनता फ्लैट नंद नगरी का है।छात्र की शिकायत करने बुलाए गए अभिभावकों ने शनिवार को नंद नगरी जनता फ्लैट स्थित

सर्वोदय बाल विद्यालय में एक शिक्षक को बेरहमी से पीट दिया। पिटाई की वजह से शिक्षक सनोज कुमार बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़े।

वारदात को अंजाम देने वालों में छात्र की दादी, चाचा समेत पांच लोग शामिल रहे। जीटीबी एन्क्लेव थाना पुलिस ने इस मामले में विद्यालय के वाइस प्रिंसिपल डीके सलोनिया की

शिकायत पर सरकारी काम में बाधा डालने व सरकारी कर्मचारी पर हमला करने के आरोप में प्राथमिकी पंजीकृत कर ली है।

साथ ही आरोपित राहुल (छात्र के चाचा), उसके दोस्त रविंद्र व जमीदार को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी आरोपितों की तलाश की जा रही है। घायल शिक्षक को उपचार के बाद जीटीबी अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

यह भी पढ़ें  दिल्ली मे बनने जा रहा है हिंदुस्तान का पहला इलेक्ट्रिक हाईवे वाहन चालकों को मिलेगी ये सुविधाएं

पेशे से कंप्यूटर साइंस के टीचर हैं सनोज

सनोज कुमार इस विद्यालय में कंप्यूटर साइंस के शिक्षक हैं। वह गाजियाबाद के शालीमार गार्डन-प्रथम में रहते हैं। उन्होंने आठवीं कक्षा के एक छात्र की शैतानियां बढ़ने पर शिकायत के

लिए उसके अभिभावकों को विद्यालय बुलाया था। शिकायतकर्ता के अनुसार शनिवार दोपहर करीब 12:18 बजे छात्र की दादी, चाचा राहुल अपने तीन दोस्तों के साथ शिक्षक

सनोज कुमार से मिलने के लिए विद्यालय के पुराने भवन में पांच नंबर कक्ष स्थित परीक्षा विभाग में पहुंचे। बातचीत के दौरान ही छात्र की दादी ने शिक्षक को थप्पड़ मारना शुरू कर

दिया। शिक्षक ने बचाव किया तो छात्र की दादी को धक्का लग गया। इस पर चाचा राहुल ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर लात-घूसों से शिक्षक को बेरहमी से पीटने लगा।

दूसरे शिक्षक बीच- बचाव करने पहुंचे शोर मचने पर विद्यालय के बाकी शिक्षक बीच-बचाव करने पहुंचे, लेकिन छात्र के अभिभावकों ने लात-घूसे मारना जारी रखा। इतने में विद्यालय के कर्मचारियों ने पुलिस को सूचना देने

यह भी पढ़ें  Delhi University ने स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए एक नई कंपनी खोलने की योजना बनाई,जाने क्या है

के साथ गेट बंद कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल शिक्षक को जीटीबी अस्पताल पहुंचाया और संदिग्धों को हिरासत में लेकर थाने पहुंच गई।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि विद्यालय के वाइस प्रिंसिपल की शिकायत पर प्राथमिकी कर तीनों उनको गिरफ्तार कर लिया है। रात में घायल को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

कैमरे में कैद हुई घटना

विद्यालय के वाइस प्रिंसिपल का दावा है कि पिटाई की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है। विद्यालय परिसर में लगे

कैमरों की वीडियो फुटेज सुरक्षित कर ली गई है। उसे पुलिस को दिया जाएगा।

गुस्साए शिक्षकों ने थाना परिसर में दिया धरना

इस घटना से गुस्साए कई स्कूलों के शिक्षक जीटीबी एन्क्लेव थाने पहुंच कर धरना देने लगे। शुरुआत में शिक्षकों को लगा कि आरोपितों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई नहीं करेगी।

दबाव बनाने के लिए शिक्षक वहीं डटे रहे। गवर्नमेंट स्कूल टीचर्स एसोसिएशन (जीएसटीए) और लोकतांत्रिक अध्यापक

यह भी पढ़ें  दिल्ली-जयपुर रेलवे ट्रैक पर 160KM प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेंगी ट्रेन,अब 2 घंटो का होगा सफर, देखे रूट

मंच के प्रतिनिधि भी वहां पर पहुंच गए। प्राथमिकी पंजीकृत होने पर ही शिक्षक थाने से हटे।

विद्यालय में शिक्षक सुरक्षित नहीं

विद्यालयों में शिक्षक सुरक्षित नहीं है। किसी शिक्षक पर हमले की यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी घटनाएं हो चुकी हैं। इससे शिक्षक डरे हुए हैं।

भय के कारण वह शिक्षण कार्य ठीक से नहीं कर पा रहे। मंच ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों से शिक्षकों की सुरक्षा की गुहार लगाई है।