दिल्ली से हरियाणा वालो के लिए खुशखबरी, अब हवा में चलने वाली बस से होगा सफर तय।देखे

``` ```

गडकरी ने कहा कि प्रदूषण के साथ आर्थिक विकास अच्छी रणनीति नहीं है और इसीलिए सरकार की योजना स्काईबस लाने की है.

नितिन गडकरी ने इस मामले पर ज्यादा जानकारी दिए बिना कहा कि सरकार धौला कुआं से मानेसर के लिए स्काईबस शुरू करना चाहती है.

नई दिल्ली. केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार को जानकारी दी कि दिल्ली और गुरुग्राम को जल्द ही स्काईबस सर्विस मिल सकती है.

दिल्ली और हरियाणा के चुनिंदा हिस्सों पर यातायात और प्रदूषण को कम करने के लिए सरकार यह सर्विस शुरू करेगी. नितिन गडकरी ने बताया कि जलवायु की देखभाल करना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है.

कहां से कहां तक ?
उन्होंने आगे कहा कि प्रदूषण के साथ आर्थिक विकास अच्छी रणनीति नहीं है और इसीलिए सरकार की योजना स्काईबस लाने की है.

नितिन गडकरी ने इस मामले पर ज्यादा जानकारी दिए बिना कहा, ‘मैं धौला कुआं से मानेसर के लिए स्काईबस (मास ट्रांजिट सर्विस) शुरू करना चाहता हूं

यह भी पढ़ें  दिल्ली मे शराब के शौकीनों को झटका, 1 सितम्बर से शराब की नई निति हुए लागू , जाने कहाँ रहेगी शराब की किल्लत

और बाद में इसे सोहना तक विस्तारित करना चाहता हूं.’ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप (बीसीजी) के एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे.

ग्रीन हाइड्रोजन पर जोर
सड़क परिवहन मंत्री ने यह भी बताया कि उनका सपना भारत में जीवाश्म ईंधन के आयात को कम करना है और इसके आयात को आने वाले समय में शून्य करना उनका लक्ष्य है.

नितिन गडकरी ने यह भी कहा कि पानी से ग्रीन हाइड्रोजन बनाना केंद्र सरकार की प्राथमिकता है. नितिन गडकरी ने ट्रांसपोर्टेशन के लिए इथेनॉल के उपयोग को बढ़ावा देने

आवश्यकता पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि इथेनॉल एक सस्ता और प्रदूषण मुक्त विकल्प है.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि इथेनॉल देश में कृषि विकास को बढ़ाने जा रहा है क्योंकि हम चावल से इथेनॉल का

निर्माण करेंगे. मंत्री ने ताप विद्युत संयंत्रों पर प्रतिबंध पर बात करते हुए कहा कि इन पर प्रतिबंध अर्थव्यवस्था के लिए अच्छा नहीं होगा.

यह भी पढ़ें  रहना-खाना सब फ्री: दिल्ली पुलिस के पास 'खाली' पड़े हैं कमरे, मुफ्त में दी जा रहीं ये सेवाएं