दिल्ली और गुरुग्राम के बीच सफर होगा आसान, खत्म होगा सिरहौल बार्डर पर हर रोज लगने वाला ट्रैफिक जाम

``` ```

Delhi Gurugram Traffic Jam लोगों को राहत देने के लिए सिरहौल बार्डर के आसपास कहीं भी आटो या वाहन पार्क किए जाने से इलाके में पूरे दिन ट्रैफिक का दबाव बना

रहता है। लोगों को जागरूक करने के साथ ही चालान के ऊपर भी जोर दिया जाएगा आने वाले समय में दिल्ली और गुरुग्राम के बीच सफर करना आसान हो सकता है।

इसके लिए दिल्ली सरकार और हरियाणा सरकार प्रयासरत भी हैं। सिरहौल बार्डर पर हर रोज लगने वाला जाम का झंझट दूर हो, इसके लिए गुरुग्राम और दिल्ली की ट्रैफिक पुलिस के

उच्चाधिकारी शुक्रवार को मंथन करेंगे। बैठक दिल्ली में होगी।बैठक में उपायों पर होगी चर्चा इस बैठक में बार्डर पर ट्रैफिक का दबाव किन-किन वजहों से बढ़ता है और इसके लिए क्या

उपाए करने की आवश्यकता है, इस बारे में विस्तार से चर्चा करने के बाद अंतिम निर्णय लिया जाएगा। कोशिश होगी कि ऐसे उपाय किए जाएं, जिससे लोगों को राहत मिल सके।

यह भी पढ़ें  दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे पर नहीं चलेंगे दोपहिया वाहन, काटे जाएंगे चालान

बैरिकेड्स की वजह से भी लगता है जाम

यहां पर बता दें कि दिल्ली-जयपुर हाईवे पर सिरहौल बार्डर से लेकर रजोकरी बार्डर के बीच में ट्रैफिक का दबाव 24 घंटे रहता है, लेकिन पीक आवर के दौरान समस्या कई बार

विकराल हो जाती है। इसके पीछे मुख्य कारण रजोकरी बार्डर के नजदीक दिल्ली इलाके में वहां की पुलिस द्वारा अक्सर बैरिकेड्स लगाकर वाहनों पर नजर रखना है।

बैरिकेड्स लगाए जाने से गुरुग्राम से दिल्ली की तरफ जाने वाले वाहनों की रफ्तार काफी कम हो जाती है। इससे कुछ ही देर में ट्रैफिक का दबाव सिरहौल बार्डर से शंकर चौक के

नजदीक तक पहुंच जाता है। शंकर चौक तक दबाव आते ही इसका असर उद्योग विहार और साइबर सिटी के अन्य इलाकों

में दिखना शुरू हो जाता है। इस स्थिति से निजात पाने के लिए गुरुग्राम और दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के उच्चाधिकारी बैठक में मंथन करेंगे।

और सक्रिय होगी गुरुग्राम ट्रैफिक पुलिस

बैठक में इस विषय पर जोर दिया जाएगा कि दिल्ली पुलिस बैरिकेड्स लगाने की सूचना गुरुग्राम पुलिस को पहले दे। इससे गुरुग्राम पुलिस भी अपनी ओर से तैयारी करेगी

यह भी पढ़ें  दिल्ली से राजस्थान पहुंचना हुआ आसान, नितिन गडकरी जल्द करेंगे एक्सप्रेस वे का उद्घाटन

ताकि जाम न लगे। दिल्ली में बैरिकेड्स लगाए जाने के साथ ही गुरुग्राम इलाके में भी यानी सिरहौल बार्डर के नजदीक ट्रैफिक पुलिस सक्रिय हो जाएगी।

उद्योग विहार इलाके पर होगा विशेष जोर

साथ ही वाहन चालकों से वैकल्पिक मार्ग से निकलने की अपील की जाएगी। उद्योग विहार पर जोर देगी ट्रैफिक पुलिस वैसे तो शहर के अधिकतर इलाकों में ट्रैफिक का दबाव है

लेकिन सबसे अधिक दबाव उद्योग विहार में है। इसे देखते हुए गुरुग्राम ट्रैफिक पुलिस उद्योग विहार इलाके पर विशेष जोर देगी।

दिनभर लगता है जाम

इस बारे में सड़क सुरक्षा अधिकारियों के साथ पुलिस उपायुक्त (ट्रैफिक) वीरेंद्र सिंह सांगवान बैठक कर चुके हैं। ट्रैफिक

पुलिस के जोनल अधिकारियों के साथ भी संवाद कर चुके हैं। जल्द ही इलाके में व्यवस्था की मजबूती को लेकर अभियान शुरू किया जाएगा।

समस्या दूर करने का होगा प्रयास

वीरेंद्र सिंह सांगवान (पुलिस उपायुक्त (ट्रैफिक), गुरुग्राम) का कहना है कि सिरहौल बार्डर पर अक्सर ट्रैफिक का दबाव रहता है। इसे कैसे कम किया जा सकता है,

यह भी पढ़ें  दिल्ली एनसीआर और हरियाणा मे शुरू हो रही है मनाली के लिए वोल्वो बस सेवा, जाने रूट और फेसिलिटीज

इस बारे में ही दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के अधिकारियों के साथ बैठक की जाएगी। समस्या का समाधान निकालने का हरसंभव प्रयास किया जाएगा।