दिल्ली में ड्राइवर बनने की इच्छुक महिलाएं,कैब ड्राइवर की ट्रेनिंग के लिए 15 अगस्त तक कर सकती हैं आवेदन

``` ```

Delhi Transport Department: दिल्ली में महिलाएं कैब ड्राइवर की ट्रेनिंग के लिए आवेदन कर सकती हैं. दिल्ली सरकार की नई योजना के तहत पेशेवर टैक्सी ड्राइवर बनने की

इच्छुक महिलाओं को स्पेशल ट्रेनिंग दिलवाने और ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए ट्रांसपोर्ट विभाग ने आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दी है.

वहीं इसके लिए ट्रांसपोर्ट विभाग की वेबसाइट के होम पेज पर बुधवार को एक लिंक अपलोड कर दिया गया है. इस लिंक पर क्लिक करते ही एक गूगल फॉर्म खुलेगा,

जिसे भरकर इस योजना से जुड़ने की इच्छुक महिलाएं आवेदन कर सकती हैं. 

15 अगस्त तक कर सकते हैं आवेदन
बता दें कि आवेदन करने के लिए 15 अगस्त तक की समय सीमा तय की गई है. सरकार ने उन कैब कंपनियों, कैब एग्रीगेटर्स और टैक्सी मालिकों से भी आवेदन मांगे हैं,

जो अपने यहां महिला कैब ड्राइवरों को रखने और सरकार के साथ मिलकर उनको ट्रेनिंग देना चाहते हैं. ऐसी कंपनियों या गाड़ियों के मालिकों को 30 जुलाई तक ई-मेल भेजकर इस

यह भी पढ़ें  दिल्ली बनेगी दुनिया की EVराजधानी इलेक्ट्रिक वाहनों की बढ़ती डिमांड से, दो सालों में 64 हजार EV की हो चुकी है बिक्री

स्कीम से जुड़ने की सहमति देनी होगी. इसके लिए बुधवार को अलग से एक नोटिस जारी कर दिया गया है.

50-50 फीसदी पर है ये स्कीम
गौरतलब है कि पिछले हफ्ते दिल्ली सरकार के ट्रांसपोर्ट विभाग ने पेशेवर टैक्सी ड्राइवर बनने की इच्छुक महिलाओं को ट्रेनिंग और रोजगार दिलाने के लिए नई योजना लॉन्च की थी.

इसके तहत कैब सर्विस मुहैया कराने वाली कंपनियों और प्राइवेट कैब मालिकों के साथ दिल्ली सरकार 50-50 फीसदी की पार्टनरशिप करके महिलाओं को कैब ड्राइविंग के लिए

ट्रेनिंग दिलवाएगी और ट्रेनिंग पूरी होने के बाद उनके लाइसेंस भी बनवाएगी. इन महिलाओं को बुराड़ी, लोनी और सराय काले खां के ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर्स पर ट्रेनिंग दी जाएगी.

4,800 रुपये की सहायता सरकार देगी
प्रत्येक महिला को ट्रेनिंग पर लगभग 4,800 रुपये की वित्तीय सहायता परिवहन विभाग की तरफ से मिलेगी और बाकी की आधी फीस कैब एग्रीगेटर्स और उन कैब संचालकों को देनी

होगी, जो इन महिलाओं को रोजगार देना चाहते हैं. इसका फायदा यह होगा कि ट्रेनिंग पूरी होते ही इन महिलाओं को कैब कंपनियों में गारंटी के साथ नौकरी भी मिल सकेगी.

यह भी पढ़ें  मेट्रो स्टेशन जहा सबसे ज्यादा होगी पार्किंग की सुविधा, जल्द देखे ताकि आप भी लुफ्त उठा सके

वहीं दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत के मुताबिक, इस योजना का मुख्य उद्देश्य सार्वजनिक परिवहन क्षेत्र में महिलाओं के लिए रोजगार के नए अवसर तैयार करना है.