दिल्ली मे बन रहा पहला डबल डेकर फ्लाईओवर, जिससे नीचे बसें और ऊपर दौड़ेंगी मेट्रो अब साथ मे

``` ```

दिल्ली में भजनपुरा और यमुना विहार के बीच बन रहा पहला डबल डेकर फ्लाईओवर 2023 तक पूरा होगा। सरकार की वित्त और व्यय समिति ने सोमवार को दिल्ली में चल रही

अलग-अलग परियोजनाओं की समीक्षा बैठक की। बैठक में पीडब्ल्यूडी मंत्री मनीष सिसोदिया ने मेट्रो के मौजपुर-मजलिस पार्क कॉरिडोर में यमुना विहार व भजनपुरा के बीच बन रहे

डबल डेकर फ्लाईओवर, सीसीटीवी कैमरा, वाई-फाई सहित 500 स्थानों पर लग रहे 115 फीट ऊंचे तिरंगे संबंधित कार्यों की प्रगति जांची।इसके अलावा अधिकारियों को इन सभी

परियोजनाओं को समय रहते पूरा करने के निर्देश दिए। बैठक में अधिकारियों ने बताया कि 1.4 किलोमीटर लंबे डबल-डेकर फ्लाईओवर का 50 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है और यह

फ्लाइओवर 2023 तक पूरा हो जाएगा। फ्लाईओवर के निचले डेक वाहनों के लिए जबकि ऊपरी डेक मेट्रो के लिए होगा।

दूसरे चरण में लगे 35 हजार सीसीटीवी कैमरे

समीक्षा बैठक में अधिकारियों ने पीडब्ल्यूडी मंत्री को बताया कि दिल्ली में सीसीटीवी कैमरा लगाने के प्रोजेक्ट का पहला चरण पूरा हो चुका है और दूसरे चरण में भी 35,000 कैमरा

यह भी पढ़ें  दिल्ली के स्कूलों की हैप्पीनेस क्लास और समारोह का हिस्सा बने पंजाब के 170 टीचर्स

लगाए जा चुके हैं। कोरोना के कारण प्रोजेक्ट की गति थोड़ी धीमी हुई लेकिन अब दिसंबर 2022 तक सीसीटीवी कैमरा लगाने का प्रोजेक्ट पूरा हो जाएगा। सिसोदिया ने कहा कि

पीडब्ल्यूडी की सड़कों को सीसीटीवी कैमरों से लैस करने के बाद इससे रोड सेफ्टी के साथ-साथ सड़कों के नियमित रखरखाव को लेकर भी मदद मिलेगी।

उन्होंने इन कैमरों की मॉनिटरिंग के लिए एक इंटीग्रेटेड कंट्रोल सेंटर स्थापित करने के निर्देश दिए जहां से सड़कों पर लगाए

जाने वाले इन सभी कैमरों की फीड मिल सकें और सड़कों को बेहतरीन बनाने की दिशा में उसका इस्तेमाल किया जा सके।

11 हजार स्थान पर लगा वाई-फाई

दिल्ली सरकार ने लोगों को फ्री वाई-फाई देने की अपनी योजना के तहत दिल्ली के 11034 स्थानों पर वाई-फाई हॉटस्पॉट स्थापित किए हैं।

अधिकारियों ने बताया कि इस महत्वपूर्ण परियोजना के तहत रोजाना लाखों लोग फ्री वाई-फाई योजना का लाभ उठा रहे हैं। अधिकारियों ने बताया कि नियमित रूप से इन वाई-फाई

यह भी पढ़ें  दिल्ली मेरठ मेट्रो में मिलेंगी ढेर सारी सुविधाएं, सफर के साथ होगा थियेटर वाला अनुभव भी

हॉटस्पॉट के रखरखाव का कार्य भी किया जाता है। इसकी निगरानी के लिए लाइव मॉनिटरिंग मॉडयूल बनाया गया है।